10वी के बाद क्या करे_

10th ke baad kya kare, Career options after 10th दसवीं के बाद क्या करना है?

आप कैसे पता  करें  कि आपको  दसवीं के बाद क्या करना है? 10th ke baad kya kare, career options after 10th | Board selection कैसे करें ? क्या आपको साइंस स्ट्रीम  लेना चाहिए या फिर आपको कॉमर्स या आर्ट साइड लेना चाहिए?

दसवीं के बाद जैसे ही रिजल्ट निकलता है  तब हर एक स्टूडेंट के मन में एक ही सवाल होता है कि अब क्या करें। दसवीं के बाद अगर अपने 11th & 12th साइंस stream से किया है तो आप आगे चलकर आप चाहे तो इंजीनियरिंग में डिग्री ले सकते। हम क्या कर सकते हैं साइंस, कॉमर्स  और आर्ट। वैसे तो आप किसी भी  फील्ड में जाइए  सब में ही कैरियर अपॉर्चुनिटी होती है।

 लेकिन अब यह महत्वपूर्ण हो जाता है कि आपका इंटरेस्ट किस में है और आप कौन सा विषय चुनना पसन्द करेंगे अपने करियर के लिए। सचिन तेंदुलकर 10वीं फेल थे लेकिन वे अपने  करियर में क्या करना है इसके लिए उन्हें पहले से ही समझ और  पूरी जानकारी थी।

लेकिन क्या सभी student को क्लियर होता है  कि हमें क्या करना है अपने करियर में आगे। कुछ स्टूडेंट ऐसे भी होते हैं उन्हें यह clear होता है की अपने लाइफ में चाहिए क्या और क्या करना है।  लेकिन  कुछ स्टूडेंट को अपने करियर के बारे में क्लियर नहीं होता है। दसवीं में डिसीजन लेना स्टूडेंट के  के लिए बहुत ही मुश्किल हो जाता है। अगर आपने कोई गलत डिसीजन ले लिया तो आपको बाद में पछताना पड़ेगा।

वैसे तो बहुत सारे ऑप्शन आपके लिए है दसवीं के बाद  लेकिन यह थोड़ा कठिन हो जाता है कि कौन सा आपके लिए बेस्ट होगा और आपके करियर के लिए।

आप चाहे तो किसी से भी करियर के लिए काउंसलिंग ले सकते हैं और उनसे आप पूछ सकते है कि आप आगे कौन से क्षेत्र में बढ़े।

अगर आप से कोई बड़ा है और वह किसी फील्ड में अच्छा काम कर रहे हैं अगर आपको उनके जैसा काम करना है तो आप उनसे सलाह ले सकते है।

Board selection कैसे करें ?

आप जब दसवीं पार करते हैं तब आपको यह डिसाइड करना होगा कि आप किस  बोर्ड में पढ़ना चाहते हैं या आप स्टेट बोर्ड या फिर सीबीएसई,आईजीसीएसई बोर्ड में पढ़ना चाहते हैं।

  अगर आप अपना बोर्ड चेंज करना चाहते हैं तो आपको थोड़ी तो चैलेंज लेनी पड़ेगी। क्योंकि नए बोर्ड में आपके पढ़ाई का तरीका बदल जाएगा और हो सकता है आपको उसमे थोड़ा difficult भी लगे इसीलिए आप पहले से ही अपना बोर्ड डिसाइड करने के बाद ही आप अपने आगे के विषय को चुने।

अगर आप कोई बड़ा डिसीजन लेना चाहते हैं अपने करियर से रिलेटेड तो आपको बहुत ही ज्यादा  जानकारी लेनी चाहिए उस  कैरियर के बारे में  जिसमें आप जाना चाहते हैं। आपको यह भी समझना होगा कि आपको क्या पसंद है आपका इंटरेस्ट  किसमें हैं ।

अगर आप अपने career और education से जुड़ी और  भी अधिक जानकारी लेना चाहते है तो इस website पर जाकर पढ सकते है। https://educareerjobs.com/

=> कौन से career options हैं 10th के बाद ?

आप जब अपना बोर्ड सिलेक्ट कर ही लेते हैं तो अब बारी आती है जानने कि 10वीं के बाद क्या करें ? तो चलिए जानते हैं।

->  Class XI – Class XII 

science

– commerce

– Arts 

-> Polytechnic Diploma courses

-> Paramedical Courses

-> Industrial Trading Institute (ITI)

-> Short-term Courses

तो अब चलिए इनके बारे में detail से पढ़ते है।

1. Class XI – Class XII

यहां पर 10th के बाद जो आपके पास पहला ऑप्शन है  11th,12th करने का 2 साल के लिए । इससे related आगे अपने प्रोफेशन को चुन सकते हैं। ज्यादातर बच्चे दसवीं के बाद 11th,12th ही सिलेक्ट करना पसंद करते हैं।

क्योंकि ज्यादातर को  यह पता ही नहीं होता कि हम 11th, 12th  के अलावा भी  दूसरे  फील्ड को  चुन कर आगे की पढ़ाई कर सकते हैं।

~~>  Science – Most Preferred

ज्यादातर पेरेंट्स यही चाहते हैं कि उनके बच्चे दसवीं के बाद साइंस ले। साइंस subject जो है वह आपको आगे बहुत सारे करियर ऑप्शंस देता है। इसलिए ज्यादातर लोग साइंस  लेकर आगे की पढ़ाई करना चाहते हैं। 

अगर आप साइंस लेते हैं  तो आपको  इन विषयों को पढ़ना पड़ेगा। फिजिक्स, केमिस्ट्री, मैथमेटिक्स यह आपके  core subject होंगे। आप इसके साथ साथ बायोलॉजी और कंप्यूटर साइंस इनमें से कुछ भी ले सकते हैं। यह आपके ऊपर निर्भर करता है। इसके साथ-साथ आपको इसमें थ्योरी और केमिस्ट्री लैब भी करना पड़ेगा। 

 अगर आपने अपना 11th और 12th साइंस stream से किया है तो आप आगे चलकर बाद में आप चाहे तो कॉमर्स और arts के सब्जेक्ट भी पढ़ सकते हैं 12th के बाद में। यह एक बहुत बड़ा advantage हो जाता है उनके लिए जो साइंस लेकर पढ़ाई करते हैं।

science के छात्र arts और commerce courses का विकल्प चुन सकते हैं, लेकिन commerce और arts के छात्र साइंस आधारित courses का विकल्प नहीं चुन सकते हैं। इसलिए, science stream वाले छात्रों के पास ज्यादा options है। 12 वीं science के छात्रों के पास बाद में आगे करियर बनाने के लिए सिर्फ इंजीनियरिंग और डॉक्ट्रेट क्षेत्र एकमात्र विकल्प नहीं हैं। साइंस के छात्रों के पास बहुत इ विकल्प होता है।

Available Courses after 12th Science
  • MBBS.
  • Engineering
  • BAMS (Ayurvedic)
  • BHMS (Homoeopathy)
  • BUMS (Unani)
  • BDS.
  • Bachelor of Veterinary Science & Animal Husbandry (B. VSC AH)
  • Bachelor of Naturopathy & Yogic Science (BNYS)
  • Bachelor of Physiotherapy.

साइंस के most स्टूडेंट आगे चलकर या तो वे मेडिकल में जाते है या फिर इंजीनियरिंग की पढ़ाई करते हैं।

जिन्होंने साइंस में बायोलॉजी लिया था वे मेडिकल क्षेत्र में जाते हैं। तथा जिन्होंने साइंस में Maths लिया था वे स्टूडेंट इंजीनियरिंग में अपनी आगे की पढ़ाई करते हैं। तो अगर आप साइंस लेते हैं  तो आप चाहे डॉक्टर या इंजीनियर बन सकते हैं।

2 . Commerce – Second most preferred

ऐसे  स्टूडेंट भी होते हैं जो दसवीं के बाद 11th और 12th में कॉमर्स लेकर आगे की पढ़ाई करना चाहते हैं। अगर आपको नंबर बहुत अच्छे लगते हैं मैथमेटिक्स बहुत ही पसंद है तो आप कॉमर्स आसानी से ले सकते हैं। यहां पर आप इकोनॉमिक्स और फाइनेंस से रिलेटेड सब्जेक्ट पढ़ेंगे। 

यहां कुछ टॉप कोर्स दिए गए हैं, जो 12 वीं कॉमर्स के बाद कर सकते हैं-

  1. B.Com.– stands for Bachelor of Commerce. (3 years long)
  2. B.B.A.– stands for Bachelor of Business Administration. (3 years long)
  3. B.M.S.– stands for Bachelor of Management Science. (3 years long)
  4. C.A.– stands for Chartered Accountancy.
  5. L.L.B Integrated Law course. (5 years)
  6. B.B.S.– stands for Bachelor of Business Studies.( 3 years )
  7. B.H.M.– stands for Bachelor of Hotel Management. (4 years)
  8. B.E.– stands for Bachelor of Economics. ( 3 years )
  9. B.F.A.– stands for Bachelor of Finance and Accounting. ( 3 years )
  10. B.C.A.– stands for Bachelor of Computer Applications. ( 3 years )
  11. B.Sc. Applied Mathematics. ( 3 years )
  12. B.Sc. Statistics. ( 3 years )
  13. B.M.M.– stands for Bachelor of Journalism and Mass Media. ( 3 years )
  14. B.Sc. Animation and Multimedia. ( 3 years )
  15. B.E.M.– stands for Bachelor of Event Management. ( 3 years )
  16. B.F.D.– stands for Bachelor of Fashion Design. (3-4 years)
  17. B.El.Ed.– stands for Bachelor of Elementary Education. (4 years)
  18. B.P.Ed.– stands for Bachelor of Physical Education. (1 year)
  19. D.El.Ed.– stands for Diploma in Elementary Education. ( 2 years)
  20. B.SW.– stands for Bachelor of Social Work. ( 3 years )
  21. B.Voc. – it stands for Bachelor of Vocation. ( 3 years )
  22. B.A. – it stands for Bachelor of Arts. ( 3 years )
  23. BJMC – it stands for Bachelor of Journalism and Mass Communication. ( 3 years )
  24. BIBF – it stands for Bachelor of International Business and Finance. ( 3 years )
  25. Integrated B.Ed. – 4 years
  26. D.Ed. (Special Education) – ( 2 years )
  27. Integrated B.Ed. (Special Education) – (4 years)
  28. CMA – it stands for Certified Management Accountant.
  29. BEM – it stands for Bachelor of Event Management. ( 3 years )
  30. Air Hostess Training – is (1-2 years )
  31. BID – it stands for Bachelor of Interior Design. ( 3 years )
  32. Bachelor of Statistics – ( 3 years )

 आप commerce क्षेत्र में इन सब से रिलेटेड सब्जेक्ट आगे पढ़ेंगे। साथ ही आपको इनकम टैक्स, एकाउंटिंग, मार्केटिंग और भी कई रिलेटेड सब्जेक्ट पढ़ने पढ़ेंगे। और इसके साथ साथ आपको कोई ना कोई एक language भी पढ़ना अनिवार्य होगा।

अब कैरियर में देखते हैं कि आप क्या कर सकते हैं?

यहां पर साइंस की तरह ही कॉमर्स में भी आपको आगे बहुत सारे करियर ऑप्शन मिल जाते हैं। आगे की पढ़ाई मैनेजमेंट में ,  इकोनॉमिक्स, इंश्योरेंस, बिजनेस, फाइनेंस, चार्टर्ड अकाउंटेंसी, बैंक पीओ, कॉस्ट एंड मैनेजमेंट अकाउंटिंग,  स्टॉक मार्केट,  स्टैटिक्स  और कई चीजें कर सकते हैं।

commerce क्षेत्र में career options क्या हैं?

  1. Chartered Accountants.
  2. Chartered Financial Analyst.
  3. Company Secretary.
  4. Loans executive.
  5. Human Resource manager.
  6. Certified Financial Planner.
  7. Economist.
  8. Venture capitalist.

3. Arts/Humanities – Least Preferred

अगर आज की बात करें तो बहुत काम ही स्टूडेंट होते हैं जो आर्ट सब्जेक्ट लेना पसंद करते हैं.

यहां पर ज्यादा करियर ऑप्शन नहीं होता ऐसा ज्यादातर स्टूडेंट्स सोचते हैं। लेकिन आप बहुत ही अच्छा करियर arts subject लेकर भी बना सकते हैं।

XII Arts में  भी आपको बहुत सारे Courses ऑप्शन मिल जाते हैं।

BA in Humanities & Social Sciences
BA in Arts (Fine/ Visual/ Performing)
Bachelor of Fine Arts (BFA)
BDes in Animation
BA LLB
BDes in Design
BSc in Hospitality & Travel
BSc in Design
Bachelor of Journalism & Mass Communication (BJMC)
BHM in Hospitality & Travel
Bachelor of Journalism (BJ)
Bachelor of Mass Media (BMM)
BA in Hospitality & Travel
BA in Animation
Diploma in Education (DEd)
BCom in Accounting and Commerce
BBA LLB
BCA (IT and Software)

आप आर्ट की पढ़ाई में आप सोशियोलॉजी, हिस्ट्री, पॉलिटिकल साइंस, लिटरेचर, साइकोलॉजी फिलॉसफी, इकोनॉमिक्स, इत्यादि पढ़ सकते हैं।

एक कंपलसरी लैंग्वेज सब्जेक्ट के साथ आप इन सब्जेक्ट को पढ़  सकते हैं।

आर्ट्स लेने के बाद आप बहुत सारे  करियर में मिल सकते हैं जो आपको पसंद है। आप आर्ट्स पढ़ने के बाद अपना करियर  टीचिंग फील्ड में, जनरलिज्म  यानी कि  पत्रकारिता,  साइकोलॉजी, लिटरेचर, पॉलिटिकल साइंस, इकोनॉमिक्स  इत्यादि में ले सकते हैं।

Arts क्षेत्र में career options क्या हैं?

Law.
Hotel/event management.
BA + MA.
Tourism.
BBA + MBA.
Advertising.
Journalism or Media
.

अगर आप 11th,12th साइंस,आर्ट्स या कॉमर्स  इन तीनों में से कोई भी नहीं लेना चाहते तो भी आप इसके अलावा अपना करियर दूसरे फील्ड में बना सकते हैं ।

तो चलिए अब देखते हैं कि दसवीं के बाद आप दूसरे फील्ड में अपना करियर कैसे बना सकते हैं?

 आप इसे प्लीज ध्यान से पढ़ें ताकि आपको समझ में आ सके कि आप किसी और  क्षेत्र में किस प्रकार आगे बढ़ सकते हैं और अपना करियर बना सकते हैं. 

2. Polytechnic Diploma courses में पढे।

यहां पर आप दसवीं के बाद डिप्लोमा कोर्स ज्वाइन कर सकते हैं। अगर अपने 12th साइंस stream से किया है तो आप आगे चलकर आप चाहे तो इंजीनियरिंग में डिग्री ले सकते है। लेकिन आपके लिए यह बेहतर होगा कि आप दसवीं के बाद ही diploma ज्वाइन करें। जिससे आपका ज्यादातर समय बच जाएगा।

  अगर आपने अब डिप्लोमा कोर्स लेने का सोचा है तो आपको पता होना चाहिए कि यह  कोर्स कितने वर्ष का होता है।  यह डिप्लोमा कोर्स 3 साल का होता है। आपको यहां पर 3 वर्ष का कोर्स कंप्लीट करना होता है। डिप्लोमा में आप कोई भी कोर्सेज ले सकते हैं जो आपको पसंद  है। 

आप चाहे तो मेकेनिकल, कंप्यूटर साइंस, ऑटोमोबाइल बायो टेक्नोलॉजी, एग्रीकल्चर, आर्किटेक्चर, टेक्सटाइल टेक्नोलॉजी,  मरीन टेक्नोलॉजी बायोमेडिकल, केमिकल  इत्यादि में आप अपने आगे की पढ़ाई कर सकते हैं.

Best Polytechnic Courses in India

Diploma in Computer Science and Engineering.
Diploma in Information Technology Engineering.
Diploma in Civil Engineering.
Diploma in Chemical Engineering.
Diploma in Automobile Engineering.
Diploma in Electronics and Communication Engineering.
Diploma in Electrical Engineering.
Diploma in Interior Decoration.
Diploma in Fashion Engineering.
Diploma in Ceramic Engineering.
Diploma in Food and Beverage Services Management.
Diploma in Human Resource Management.
Diploma in Graphic Designing.
Diploma in Digital Marketing.
Diploma in Interior Decoration.

3. Paramedical courses में पढ़े। 

पैरामेडिकल कोर्सेज हमारे हेल्थ सेक्टर से जुड़े हुए हैं। इसमें भी बहुत ही अच्छी प्रतिनिधि मिलती है हेल्थ केयर वर्कर और टेक्नीशियन के रूप में काम कर सकते हैं। हेल्थ केयर इंडस्ट्री में बहुत सारे जॉब अपॉर्चुनिटी मौजूद है।

  तो आप चाहे  पैरामेडिकल में पढ़ाई कर सकते हैं। हेल्थ केयर में नर्स उसके अलावा जो भी हेल्थ केयर से जुड़े हुए लोग और जो  अलग-अलग काम होते हैं यह सारे काम आपको मिल सकते हैं.

4 . Industrial training institute (ITI) में पढे।

आईटीआई जो होता है वह (DGET) के अंदर आता है। आईटीआई एक गवर्नमेंट ट्रेनिंग इंस्टिट्यूट है।

(ITI) में स्टूडेंट को skills के आधार पर trained किया जाता है।

यहां पर स्टूडेंट्स को practically सब कुछ  सिखाया जाता है। अलग-अलग  field में  ट्रेनिंग प्रोवाइड किया जाता है। जैसे कि मैकेनिकल वर्क, इलेक्ट्रॉनिक, इनफार्मेशन टेक्नोलॉजी, फेब्रिकेशन, ऑटोमोबाइल, कंप्यूटर सॉफ्टवेयर, इलेक्ट्रिकल प्लंबिंग वायरिंग इत्यादि. 

यह थोड़ा सा डिप्लोमा से मिलता जुलता है लेकिन इसमें क्या फर्क है कि कोई  cources जो होता है वह  6 months का होता है और काफी तो 2 years के होते हैं ।  

इस प्रकार आईटीआई से ट्रेनिंग लेने के बाद स्टूडेंट को जॉब के लिए रेडी कर दिया जाता है। आईटीआई करने के बाद कोई भी स्टूडेंट आसानी से जॉब  कर सकता है वह उस students के skills के  ऊपर  निर्भर करता है।

5. Short-term Courses में पढ़े 

अब हम यहां पर बात करेंगे कुछ शॉर्ट टर्म कोर्सेज के बारे में जहां पर आप कुछ थोड़े समय के लिए पढ़ाई करने के बाद आप अपने करियर को आगे बढ़ा सकते हैं. 3 से 6 महीने और 12 महीने तक के होते हैं।

यह शॉर्ट टर्म कोर्सेज का main मकसद स्टूडेंट को जॉब के लिए  तैयार करना उनकी स्किल को डेवलप करना  है जिससे वह आसानी से काम पा सके उस फील्ड में। 

इस कोर्स के अंतर्गत  जो आते हैं  वह है वेब डिजाइनिंग, सर्टिफिकेट इन SEO, डिप्लोमा इन ग्राफिक डिजाइनिंग, डिप्लोमा इन 2D 3D एनीमेशन, सर्टिफिकेट कोर्सेज इन प्रोग्रामिंग लैंग्वेज(java, C,  C++) ।

इन शॉर्ट टर्म कोर्स को करने के बाद आपको सर्टिफिकेट मिलता है जिस के  अंतर्गत पर आप आगे कोई भी जॉब ले सकते हैं।  इनको चीज को कंप्लीट करने के बाद जो आपको सर्टिफिकेट मिलता है उसी के  ऊपर आपको  जॉब मिलेगा।

Job Opportunities: After 10th Standard

अब देखते हैं कि दसवीं के बाद कौन कौन से फील्ड में जा सकते हैं। आप इन क्षेत्र में भी आगे जाकर अपना करियर बना सकते हैं दसवीं के बाद। स्टूडेंट डिफेंस सेक्टर में  जुड़ सकते हैं- जैसे कि आर्मी, एयर फोर्स और नेवी । 

आपको कुछ एग्जाम देने पड़ते हैं टेक्निकल हो या नॉन टेक्निकल हो इसके बाद उन्हें सिलेक्ट किया जाता है। जो पहले राउंड में select हो जाता है उसे आगे बढ़ने का मौका दिया जाता है।

  डिफेंस के साथ-साथ बहुत सारे से गवर्नमेंट जॉब है जो आप दसवीं के बाद भी कर सकते हैं। बहुत से लोग दसवीं के बाद ही गवर्नमेंट जॉब में लग जाते हैं।

अपने न्यूज़पेपर में बहुत सारे गवर्नमेंट जॉब वेकेंसीज देखी होंगी  वहां पर  कभी-कभी  रेलवे के काम  के लिए वैकेंसी होती  है, पुलिस के लिए  वैकेंसी आती रहती हैं।

आप चाहे तो clerk के लिए या फिर डाटा एंट्री जॉब के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं। दसवीं के बाद बहुत सारे कंपनी में काम के लिए लिया जाता है।

तो अब बारी आती है कि आपको पसंद करना होगा कि आप किस फील्ड में जाना चाहते हैं अपना करियर किस  फील्ड बनाना चाहते हैं.

#  कैसे जाने कि आपके लिए कौन सा  फील्ड लेना सही होगा आपके कैरियर के लिए।

अब यहां पर बात आती है इंटरेस्ट और पैशन की।

किसी को किसी  फील्ड में इंटरेस्ट होता है  तो किसी को पैशन होता है।

इस वजह से बहुत सारे स्टूडेंट परेशान हो जाते हैं कि वे अपने इंटरेस्ट के आधार पर  अपना करियर सिलेक्ट करें या फिर अपने passion के हिसाब से।

अभी आपको क्या करना होगा आपको अपने इंटरेस्ट को समझना होगा और उसे देखना होगा कि आपका वास्तव में किस चीज में ज्यादा इंटरेस्ट है  कौन से सब्जेक्ट आपको ज्यादा  एक्साइटेड करते हैं  जिसमें ज्यादा पढ़ने में मजा आता है।

आपको वास्तव में किस चीज में ज्यादा मजा आता है जब आप वह करते हैं। कौन से सब्जेक्ट हैं जो आप ज्यादातर टाइम पढ़ते हैं।  आप अपने इंटरेस्ट  को देखते हुए अपना लिस्ट अलग-अलग लिस्ट बनाएं। फिर उसमें से देखें कि आप किस सब्जेक्ट में बहुत ही ज्यादा  अच्छे हैं। यह भी देखें  की आपको कौन सा काम ज्यादातर टाइम करने में लगता है।

आप चाहे तो आप अपने पेरेंट्स, फ्रेंड्स, टीचर और किसी भी mentor की सलाह ले सकते हैं अपने करियर के लिए। वह आपको  आपके कैरियर को सिलेक्ट करने में मदद करेंगे। वे आपको यह भी बता सकते हैं कि आप किस चीज में अच्छे हो और किस चीज में आप अच्छे नहीं हो। क्योंकि उन्होंने आपके साथ ज्यादातर टाइम बिताया है तो उनके पास आपके बारे में  ज्यादा अच्छी जानकारी होगी।

आपको अपने बेटर फ्यूचर के लिए थोड़ी तो प्लानिंग करनी ही पड़ेगी इसलिए अभी से ही या विचार करना शुरू कर दे कि आप किस फील्ड में जाने वाले हैं। अगर आप सातवीं आठवीं में ही अपना डिसीजन ले लेते हैं कि आपको आगे क्या करना है तब आप आसानी से दसवीं तक आते आते  अपने करियर के बारे में ज्यादा  जानने और समझने लगते हैं। 

आप अपने लक्ष्य पर हमेशा ध्यान दें और अपने करियर को  अच्छा बनाएं।  हर एक स्टूडेंट को अपने इंटरेस्ट, फैशन, कौशल और  ज्ञान के घर पर अपना करियर पसंद करना चाहिए। अगर आप अपने मनचाहे करियर में जाएंगे तो आप उसमें और भी अच्छा काम कर सकते हैं।  लेकिन अगर आपको अपना करियर भी पसंद नहीं आएगा तो आप उसमें सही काम नहीं कर पाएंगे।

मेरा मानना यह है कि जब स्टूडेंट अपना करियर खुद चुनते हैं तब वह खुद जिम्मेदार बन जाते हैं अपने फ्यूचर के लिए और वे आगे चलकर बहुत ही अच्छा काम करते हैं।

 कुछ स्टूडेंट होते हैं जो खुद का career खुद नहीं चुनते अगर उनके पेरेंट्स या फ्रेंड ने बोला कि इस फील्ड में करियर अच्छा होगा तो आप इसमें चले जाओ तो वो चले जाते है। तो कभी-कभी स्टूडेंट आसानी से उनकी बात मानकर चले भी जाते उनके कहने से। और बाद में क्या होता है कि उन्हें वह सब्जेक्ट और कैरियर पसंद ही नहीं आता। इसलिए वह अपने जीवन में असफल रह जाते हैं। एक कैरियर का चुनाव करना बहुत ही महत्वपूर्ण है। इसलिए सोच समझकर हमें अपना निर्णय लेना चाहिए।

आपको ज्यादातर रिसर्च करनी चाहिए, दूसरों से पूछना चाहिए, जो उस करियर लोग है आप उनसे बातें करें ,उनसे  पूछें कि आप जिस करियर में है वह करियर कैसा है क्या मैं इस फील्ड में आ सकता हूं। वे आपको सही सलाह जरूर देंगे।  

अगर अभी भी आपको अपने करियर से रिलेटेड कोई प्रश्न हो तो आप हमें कमेंट में जरूर बताएं हम आपको आपके प्रश्नों  का उत्तर देने की कोशिश  जरूर करेंगे.

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद ,

10th ke baad kya kare, Career options after 10th, दसवीं के बाद क्या करना है

Read more ..


Motivational stories for students in Hindi

Best free websites ऑनलाइन शिक्षा के लिए

JOIN US ON

Share on

Leave a Reply