skill

स्पीच और प्रेजेंटेशन कैसे दे?|इन स्किल को बेहतर कैसे करे?

स्पीच और प्रेजेंटेशन कैसे दे? आप अपने स्पीकिंग और प्रेजेंटेशन की स्किल को बेहतर कैसे करे? how to Improve speaking and Presentation Skill

ज्यादातर लोग स्पीच और प्रेजेंटेशन देते समय बहुत ही डरे होते है इसका मुख्य कारण यह है की उन्हें पता ही नहीं होता की किस प्रकार सही तरीके से प्रेजेंटेशन और स्पीच देते है। स्पीच और प्रेजेंटेशन कैसे दे? अगर आप अपने आपको इस काम के लिए बेहतर बनाना चाहते है तो आपको कुछ बातो का ध्यान रखना चाहिए जो निचे बताए गए है। आप किसी भी क्षेत्र में बेहतर हो सकते है बस आपको उस काम को करने का सही तरीका आना चाहिए।  

स्पीच और प्रेजेंटेशन की शुरुआत कैसे करें ?

आपको स्पीच और प्रेजेंटेशन की शुरुआत अपने introduction से करनी चाहिए।

आप जब भी अपना presentation शुरू करे तो आपको हमेशा अपने introduction से शुरुआत करे। आप introduction में अपना  Name, Qualification, work और Passion को बता  सकते है।  याद् रखे की आपका introduction ज्यादा से ज्यादा 1 minute  का होना चाहिए इससे ज्यादा नहीं।

स्पीच और प्रेजेंटेशन देते समय इन बातो का ध्यान रखे। स्पीच और प्रेजेंटेशन कैसे दे?

Be confident & positive 

  Aware of your  purpose 

Simile on your face

Engaged with the audience

Eye contact  

Be enthusiasm

Know your audience well

Deep understanding of your topic

Adjust voice modulation

Good body language

Allow audience to ask question and give answer

Complete your presentation and speech in given time limit

Do more practice before your presentation and speech

⇨ Be confident & positive:-

हमें प्रेजेंटेशन या स्पीच  देते समय confident और positive रहना चाहिए। आप जब confident होते है तो आप अच्छी तरह से present करते है।

जब आपको अपने आप पर confident और विश्वास होगा तो आप अच्छा perform करते है। आप presentation और स्पीच देने से पहले positive सोचे की आज मैं अच्छा perform करूँगा और मेरा प्रेजेंटेशन बहुत ही बेहतरीन जायेगा। जब आप कुछ इस प्रकार पॉजिटिव सोचते है तो आपका जो डर होता है वह समाप्त हो जाता है। और आप अपना 100% दे पाते  है।

⇨ Aware of your purpose  :-

  जब भी आप presentation या speech दे रहे हो तब आपको अपना purpose याद रखना चाहिए की आप क्यों presentation दे रहे इसका क्या महत्व हैं। आपके presentation और speech देने का मकसद क्या है।

आपका purpose लोगो को motivate करना, information देना, लोगो को अपने project , products के बारे में बताना या फिर अपनी कम्पनी के बारे में समझाना कुछ भी हो सकता है।

⇨Simile on your face:-

जब भी आप स्टेज पर हो और presentation और speech दे हो तब आपको अपने चेहरे पर smile रखना चाहिए। जब आप खुश रहते है तब आप अच्छा presentation दे सकते है। मुस्कुराहट से एंडोर्फिन बढ़ता है, चिंता को शांत करने के साथ-साथ आप अपनी प्रस्तुति के बारे में अच्छा महसूस करते हैं। आपकी मुस्कुराहट भी आपके आत्मविश्वास का प्रदर्शन करती है।

⇨Engaged with the audience:-

कोशिश करे कि आप अपने audience को हमेशा engaged रखें। अगर आप presentation या speech दे रहे हों तो याद रखिए अगर आपके audience आपको नही सुन रहे तो फिर आपको presentation देने का और बोलने का कोई फायदा नहीं है। आप presentation और speech के बीच में कोई quotes, story सुना सकते है। चाहे तो आप कोई activity करा सकते है। आप बीच में audience से question भी पूछ सकते है। जिससे आपको पता चलेगा की आपके audience आपको कितना समझ रहे तथा सुन रहे है।  

⇨Eye contact:-

आपका ध्यान अपने audience पर होना चाहिए कहीं और नहीं जब आप presentation या speech दे रहे हों। जब आप सामने वाले को देख कर बाते करते है तो आप ज्यादा बेहतर perform कर सकते है। लोग भी आप पर ध्यान देंगे और आपकी बाते सुनेगे ।  आप अपने ऑडियंस के साथ जब अच्छे से connected होते है तब आप और भी बेहतर तरीके से अपने आपको रिप्रेजेंट कर सकते है। तब लोग आपके साथ connected feel करते है।

⇨Be enthusiasm:-

अगर आप अपने कार्य के लिए उत्साहित नहीं होंगे तो लोग आपको क्यों सुनेगे। लेकिन जब आप अपने presentation के लिए उत्साहित होंगे तो लोग आपको पसंद करेंगे। और लोगो को भी आपके presentation के लिए उत्साह बना रहेगा। आपको स्पीच देते समय उत्साहित भी रहना चाहिए। आप जिस काम को पसंद करते है तब अपने आप उत्साहित हो जाते है। 

⇨Know your audience well:-

आपको पहले से ही ये पता होना चाहिए की आपकी ऑडियंस कैसी और उस हिसाब से आपको अपना प्रेजेंटेशन को तैयार करना चाहिए। जो स्पीकर अपने ऑडियंस को अच्छी तरह से जनता तथा समझता है वह उन्हें अच्छी तरीके से समझा पता है। आपको एक अच्छा स्पीकर बनने के लिए हमेशा अपने ऑडियंस को पहले समझना होगा। तथा उनको क्या चाहिए यह भी आपको पता होना चाहिए। ताकि आप उस हिसाब से उन्हें समझाए तथा बताये जो उन्हें चाहिए।

⇨Deep understanding of your topic:-

अगर आप कही भी प्रेसन्टेशन देते है या फिर स्पीच देते है तो आपको अपने टॉपिक के बारे में सब कुछ अच्छे से पता होना चाहिए। अगर आपको अच्छी जानकारी होगी तो आप लोगो को अच्छे तरीके से समझा सकोगे। जब आप अपने काम से लोगो को value देते है तो लोग आपको पसंद करते हैं। 

⇨Adjust voice modulation:-

जब भी आप प्रेजेंटेशन या फिर स्पीच दे रहे हो तब आपको अपने आवाज़  में थोड़ा बदलाव लाते रहना चाहिए। आप जब कोई इमोशनल बाते बता रहे हो तो आपको थोड़ा सा विनम्र होना चाहिए। लेकिन जब आप जोस, जूनून की बाते कर रहे हो तो आपको अपनी आवाज थोड़ी कड़क रखनी चाहिए। ऐसा करने से लोग आपके साथ पुरे समय जुड़े रहेंगे। वे आपको सुनना पसंद करेंगे।लोगो का attaintion आप पर बना रहेगा।

⇨Good body language:-

आपकी body language हमेशा सही और बेहतरीन होनी चाहिए। आपको अपने बॉडी language पर भी ध्यान देना चाहिए । लोग आपको सुनने से ज्यादा आपकी body language से समझ जाते है की आप क्या बोल रहे है। आपने सभी से यह कहते सुना होगा की स्टेज पर अपनी body language सही रखना। आप स्टेज पर किस प्रकार खड़े होते हो, किस प्रकार चलते हो ,किस प्रकार अपने हाथो को हिलाकर बाते करते हो इससे आपकी body language पता चलता है। 

⇨Allow audience to ask question and give answer:-

हमेशा प्रेजेंटेशन और speech देते समय याद रखे की केवल आपको ही नहीं बोलना है आपको अपने ऑडियंस से भी बोलवाना आना चाहिए। आप बीच में कुछ प्रश्न पूछते रहे जिससे आपको पता चलता रहे की आपकी audience आपके बातो को समझ रही है या नहीं। जब आप उनसे सवाल पूछोगे तब उन्हें भी थोड़ा aware रहना पड़ेगा। आप कोई कॉन्टेस्ट करा सकते है या फिर उन्हें अपने मन से किसी भी टॉपिक पर कुछ भी बोलने का मौका दे सकते है। इससे ऑडियंस को भी अच्छा लगेगा।

⇨Complete your presentation and speech in given time limit:-

आपको speech सही समय पर पूरा कर देना चाहिए। क्योकि कई  बार लोगो के साथ ऐसा होता है कि समय पूरा हो जाता है लेकिन उनका टॉपिक नहीं।  वे सिर्फ एक ही टॉपिक को विस्तार से बताने लग जाते है जिससे दूसरे उनके कई topic छूट जाते है। तो फिर आप audience को अच्छे से कुछ भी नहीं समझा पते है। आपका स्पीच और प्रेजेंटेशन अधूरा रह जाता है। इसलिेए प्रेजेंटेशन देते वक्त time limit का ध्यान रखना चाहिए। 

⇨Do more practice before your presentation and speech:-

अंत में आपसे बस इतना कहना है की आप जितना ज्यादा हो सके उतना ज्यादा प्रैक्टिस करे। आपकी तैयारी अगर अच्छी होगी तो आप अच्छे से अपना स्पीच और प्रेजेंटेशन दे सकेंगे। आप mirror में अपने आपको देख कर practice करे जिससे आपको अपने हाव – भाव का भी पता चलता रहे की आपको कहाँ पर सुधार करनी चाहिए। आप चाहे तो अपना वीडियो, रिकॉर्ड कर देखे और सुने जिससे आपको पता चलेगा की आप गलतियां कहाँ कर रहे हो। और इस प्रकार आप एक बेहतरीन तैयारी कर सकते है। जीत से पहले की गई तैयारी ही आपके जीत को सुनिश्चित करती है। 

आपका बहुत बहुत धन्यवाद। 

Read more..

Top 5 Rich Habits|| 5 अच्छी आदते

Motivational Books in Hindi || प्रेरणा देने वाली किताबें

Share on

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *