Depression को कम करने के उपाय

डिप्रेशन से छुटकारा in Hindi | Depression in Hindi

डिप्रेशन से छुटकारा कैसे पाएं ? आज के इस time में लोगो के stress कि problem बहुत ही ज्यादा बढ़ती जा रही है। ज्यादा stress होने कि वजह से लोग अपने काम पर भी ध्यान नहीं दे पा रहे है।

तो सबसे पहले  जानते है कि डिप्रेशन होता क्या है ? डिप्रेशन का मतलब जब आप  किसी भी चीज  को लेकर आप बहुत ही ज्यादा परेशान हो जाते हैं और आप उस चीज के बारे में अधिक चिंता करने लगते हैं। और धीरे-धीरे यही चिंता एक खतरनाक तनाव का रूप धारण कर लेती है।  जिसे हम डिप्रेशन कहते हैं।  जब भी आप डिप्रेशन में होते आप बहुत ही ज्यादा अकेला महसूस करते हैं और उस समय आपको कुछ नया करने में अच्छा नहीं लगता है।

तो चलिए जानते हैं कि स्ट्रेस क्या होता है? Stress आपके अंदर की feeling और emotions होते है। जब आप stress में होते हो तो आप किसी ना किसी चीज का दबाव महसूस करते हो। आपको किसी बात की चिंता सताती है। आप किसी बातों को जब गहराई से सोचते हो तब आपको स्ट्रेस होने लगता है। 

तनाव तो सभी के जीवन में होते हैं। कोई इन तनाव को सह लेता है तो कोई  तनाव को सह नहीं पाता है। और तनाव में आकर वह उल्टे सीधे काम करने लगता है।  ज्यादा तनाव होने के कारण  वह अपने काम पर  अधिक ध्यान नहीं दे पाता  है।

तनाव से सीधा असर आपके पर्सनल, प्रोफेशनल और सामाजिक जीवन पर भी पड़ता है। जब आप स्ट्रेस में होते तो आप लोगों से अपनी बातों को सही तरीके से शेयर नहीं कर सकते हो। आप धीरे-धीरे लोगों से दूरियां बनाने लगते हैं। आपको चिंता खाई जाती है।  अधिक चिंता करने की वजह से आपको stress होने लगता है और आपका मन व्याकुल होने लगता है। आपको कोई भी चीज अच्छी नहीं लगती तथा आप बहुत ही ज्यादा दुखी रहते हैं।

Stress होने से आपके फिजिकल हेल्थ पर तो प्रभाव पड़ता ही है साथी आपका इमोशन भी आपके कंट्रोल में नहीं होता। आप सही तरीके से डिसीजन नहीं ले पाते कि आपको आगे क्या करना है। जब आप स्ट्रेस में होते हैं अगर आपको कोई भला बुरा कहता है तो आपको बहुत ही ज्यादा बुरा लगने लगता है। छोटी सी छोटी बात भी आपको बुरा लगने लगती है।  

आप इस समय बहुत ही अकेला महसूस करते हैं। आपको ऐसा लगता है कि आप के साथ कोई भी नहीं है। जब आप स्ट्रेस में होते तो आपके मन में बहुत सारे सवाल भी होते हैं। और इसका जवाब आपको पता नहीं होता और ज़वाब को पाने के लिए आप परेशान हो जाते हैं। आप अपनी प्रॉब्लम को किसी के साथ शेयर करना नहीं पसंद करते हैं।

कभी-कभी किसी काम के लिए स्ट्रेस लेना थोड़ा अच्छा होता है लेकिन अगर आप किसी काम को लेकर बहुत ही ज्यादा स्ट्रेस लेने लगते हैं तो वह आपके सेहत पर बुरा प्रभाव डालता है। आज जितने दिनों तक स्ट्रेस में रहते हैं उतने दिनों तक आपकी मानसिक तथा शारीरिक हालत खराब रहती है। आप सही नींद नहीं ले पाते हैं।

तो चालिए समझते है कि किस प्रकार अपने स्ट्रेस को मैनेज करें। Stress को दूर करने के लिए आपको यहां पर बताए गए बातो का ख्याल रखना चाहिए़।

➡️ तो चलिए जानते हैं कि डिप्रेशन से छुटकारा कैसे पाएं। 

1. आप ज्यादा अकेले मत रहिए।

अगर आप सच में  डिप्रेशन से छुटकारा पाना चाहते हैं तो फिर आपको अकेले रहना थोड़ा कम कर देना होगा। क्योंकि डिप्रेशन भी तभी होता है जब आप ज्यादा अकेले रहने लगते हैं। डिप्रेशन के टाइम पर लोगों से मिलना कम कर देते हैं और चीजों को ज्यादा सोचना शुरु कर देते हैं जैसे इस वजह से आप और भी ज्यादा परेशान होने लगते हैं।

तो आपको क्या करना होगा अभी कोशिश करें कि आप अपने दोस्त और परिवार वालो के साथ ज्यादा से ज्यादा समय  बिताएं।  चाहे तो ऐसी जगह घूमने जाए जहां पर आपको जाना पसंद हो। आप अपने आप को अकेले मत रहने दे , लोगों के साथ समय बिताने की ज्यादा कोशिश करें। ऐसा करने से आपका डिप्रेशन थोड़ा थोड़ा कम होने लगेगा। और आपको अच्छा लगने लगेगा और आप लोगों के साथ जब समय बिताएंगे तो आपका ध्यान भी चिंताओं से दूर हो जाएगा। 

2  ज्यादा सोचना कम करें।

ज्यादातर समय यह होता है कि जब हम डिप्रेशन में होते हैं तो कुछ ज्यादा ही किसी चीजों के बारे में सोचने लगते हैं। और आपको पता ही है जब हम किसी चीज के बारे में बहुत ही ज्यादा गहराई से सोचने लगते हैं तो हमारा जो  दिमाग है वह तनाव में आ जाता है।  आपके ज्यादा सोचने से कुछ बदलने वाला तो है नहीं तो उस चीज पर फालतू का समय व्यर्थ करने से कोई फायदा नहीं होगा।  अगर आपके साथ कुछ बुरा हुआ है तो उस बुरी चीज को बार बार सोचने से वह चीज वापस बदल नहीं जाएगी।  इसलिए आपको  अधिक  सोचना कम करना होगा। 

ज्यादातर लोग डिप्रेशन में जाते क्यों हैं?  क्योंकि वह किसी ना किसी बात को लेकर बहुत ही अधिक परेशान होते और उस चीजों को ज्यादा सोचने लगते हैं इसलिए वे डिप्रेशन में चले जाते हैं।

आप ज्यादा सोचने की जगह पर कुछ काम में अपना ध्यान लगाएं। जब आपका ध्यान किसी और काम में होगा तब अपने आप ही आपका दिमाग सोचना कम कर देगा। अगर आपको सोचना ही है ज्यादा से ज्यादा तो आप अच्छी चीजें सोचिए। आप पॉजिटिव थॉट्स को अपने दिमाग में लाएं। जिससे आप अपनी चिंताओं को भूल जाएंगे।

3.  वह करें जिससे आपको खुशी मिले

अगर आप डिप्रेशन से बाहर निकलना चाहते हैं तो आपको वह कार्य करना चाहिए जो आपको खुशी दे । आप डिप्रेशन में तभी जाते हैं जब आप उदास होते हैं जब आपको खुशियां नहीं मिलती। तो अपने आप को डिप्रेशन से निकालने के लिए आपको वह करना होगा जिससे आपको ज्यादा से ज्यादा खुशी मिलती हो । और जब आप खुश होने लगेंगे तो अपने आप ही आपका डिप्रेशन कम होने लगेगा। आप खुश होने के लिए वह सारी चीजें करें जो आपको पसंद है। अगर आप drwaing करते हैं जिससे आपको खुशी मिलती है तो आप dwraing कर सकते हैं। अगर आपको सिंगिंग करना अच्छा लगता है आप सिंगिंग करिए। अगर आपको डांस करना अच्छा लगता है तो आप अपने आप को खुश रखने के लिए डांस करिए। ऐसी कोई भी हैबिट्स हो सकती है, कोई भी एक्टिविटी हो सकती है जिसे करने से आपको खुशी मिलती हो।

इस प्रकार आप ज्यादा खुश रहकर अपने डिप्रेशन को कम कर सकते हैं। और जब आप अपनी लाइफ में खुश रहेंगे तो डिप्रेशन तो कभी आएगा ही नहीं।  डिप्रेशन के समय यही समस्या होती है कि हम खुश नहीं हो पाते। आपको इस समस्या को दूर करने के लिए यह उपाय तो करना ही चाहिए।

4. अपने आप को मोटिवेट करें 

आप जब डिप्रेशन में होते हैं तो अकेले होते हैं, आप बहुत ही ज्यादा डिमोटिवेटेड feel करते हैं। तो उस समय आपको अपने आप को मोटिवेट करने के लिए काम करना चाहिए। आप खुद से बातें करें। आप अपने गोल्स और ड्रीम्स को याद करें। आपको अपने करियर पर ध्यान देना होगा। जब आप अपने आप को मोटिवेट करेंगे, अपने आप को आगे बढ़ाने की हिम्मत देंगे तो आप धीरे-धीरे डिप्रेशन से दूर होने लगेंगे ।  

आप अपने आप को मोटिवेट रखने के लिए  पॉजिटिव बुक्स भी पढ़ सकते हैं। आप किसी महान व्यक्ति की जीवनी भी पढ़ सकते हैं जिससे आपको प्रेरणा मिले। आप मोटिवेशनल वीडियोस देख सकते हैं, पिक्चर भी देख सकते है जिससे आपको मोटिवेशन मिले।  इस प्रकार आप अपने आपको डिप्रेशन से दूर कर सकते हैं अपने आप को मोटिवेट रखकर।

5  एक्सरसाइज करें और अच्छी नींद लें।

अगर आप हर रोज एक्सरसाइज करते हैं, तो अवसर बढ़ जाता है कि आपका डिप्रेशन जल्द से जल्द खत्म हो जाए। जब आप एक्सरसाइज करते हैं तो आप अपने  शारीरिक तथा मानसिक बीमारियों को अपने से दूर करते हैं। एक्सरसाइज करते समय आपके शरीर में ऑक्सीजन की मात्रा बढ़ जाती है। आपके शरीर में प्रचुर मात्रा में ऑक्सीजन पहुंचने लगता है तब आप बहुत ही ज्यादा  ऊर्जावान महसूस करते हैं।  

आप चाहे तो साथ में मेडिटेशन भी कर सकते हैं। मेडिटेशन आपको डिप्रेशन कम करने में बहुत ही ज्यादा मदद कर सकता है।  जब आप ध्यान करते हैं, मेडिटेशन करते हैं तब आपका जो मन होता है वह शांत हो जाता है। और आप  दूसरे चीजों की चिंता करना छोड़ देते हैं। और आप बहुत ही ज्यादा शांति महसूस करते हैं।

एक्सरसाइज के साथ-साथ आपको एक अच्छी नींद भी लेनी चाहिए। ज्यादातर टाइम डिप्रेशन में क्या होता है कि लोग अच्छी नींद नहीं ले पाते  है। पूरी नींद ना लेने की वजह से और भी ज्यादा परेशान हो जाते हैं। इसलिए  कोशिश करें कि आप अच्छी नींद ले।  जब आप नींद लेते हैं तो आपका जो दिमाग होता है वह शांत हो जाता है। और जब आप किसी चीज के बारे में सोचेंगे नहीं विचार नहीं करेंगे तो आपका डिप्रेशन कम होने लगेगा। 

तो आपने देखा यहां पर कुछ ऐसे तरीके दिए गए हैं जिसका इस्तेमाल कर आप अपने डिप्रेशन को कम कर सकते हैं, आप अपनी चिंताओं को दूर कर सकते हैं। जब आप अपने काम पर फोकस करते हैं तब आपको चिंता और परेशानियां नहीं आती है।  इसलिए आप आपने लक्ष्य पर ध्यान रखें, अपने करियर पर फोकस करें। इस प्रकार आप सभी चिंताओं से मुक्त हो जाएंगे। 

अगर आप सोचते हैं कि डिप्रेशन को खत्म करने के लिए आपको दवाइयों की जरूरत पड़ेगी। तो हर समय दवाइयों पर निर्भर होना जरूरी नहीं होता है। आपके अंदर खुद बहुत क्षमता है कि आप अपने शरीर को स्वस्थ कर सके। आपको किसी दवाइयों की जरूरत नहीं पड़ेगी अपने डिप्रेशन को कम करने के लिए। 

अगर आपको अधिक प्रॉब्लम है तो आप किसी डॉक्टर से सलाह ले सकते हैं। जब कोई गंभीर समस्या हो तो आपको  किसी ऐसे डॉक्टर और स्पेशलिस्ट के पास जाना चाहिए जो आपको सही सुझाव दे सकते हैं। हम आशा करते हैं कि आपको ये सुझाव अच्छे लगे होंगे। 

खुश रहें स्वस्थ रहें ऐसी कामना करते हैं आपके लिए। चिंताओं से मुक्त होकर आप अपने जीवन में खूब तरक्की पाएं।

आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

Read More…

About Heart in Hindi | Information About Heart in Hindi

Health tips || स्वस्थ भोजन लेने के फायदे || Healthy Food List

Share on

Leave a Reply